Breaking News

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी एवं स्थानीय विधायक व बिहार कांग्रेस के सह प्रभारी अल्पेश ठाकुर के खिलाफ मुजफ्फरपुर के सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (प्रथम) सह सबजज (प्रथम) गौरव कमल के कोर्ट में दाखिल किया

गुजरात में बिहारियों पर अत्‍याचार तथा उन्‍हें वहां से भगाने के आरोप में वहां के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी एवं स्थानीय विधायक व बिहार कांग्रेस के सह प्रभारी अल्पेश ठाकोर के खिलाफ कोर्ट में परिवाद दाखिल किया गया है.  परिवाद मुजफ्फरपुर के सामाजिक  कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (प्रथम) सह सबजज (प्रथम) गौरव कमल के कोर्ट में दाखिल किया है.कोर्ट ने सुनवाई के लिए दो नवंबर की तारीख मुकर्रर की है.

 ये आरोप लगाए है सामाजिक कार्यकर्त्ता 

तमन्ना हाशमी ने अपने परिवाद में कहा है कि 09  अक्टूबर को विभिन्न टीवी चैनलों पर यह खबर प्रसारित की जा रही थी कि बिहार के लोगों के साथ बुरा बर्ताव किया जा रहा तथा उन्हें जबरन गुजरात से भगाया जा रहा है. बिहारी होने के नाते इस खबर से वे आहत हुए हैं. अल्पेश ठाकोर पर इसका आरोप लगाते हुए उन्‍हाेंने परिवाद पत्र में लिखा है कि देश तोडऩे के इस प्रयास में वहां के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने साथ देने का काम किया.

क्या है पूरा मामला

गुजरात के साबरकांठा में 14 महीने की एक बच्ची से दुष्कर्म के आरोप में बिहार के युवक की गिरफ्तारी की गई है. इसके बाद से वहां गैर-गुजरातियों, खासकर बिहार व उत्‍तर प्रदेश के लोगों पर हमले हो रहे हैं. उत्तर प्रदेश और बिहार के लोग बड़ी संख्‍या में गुजरात से पलायन कर रहे हैं.

कई फैक्ट्री बंद हो गई है अब तक 

गुजरात में अन्य प्रांतों से आए करीब 80 लाख श्रमिक कार्यरत हैं जो हीरा, कपडा, टाइल्स, केमिकल, ऑटो,फार्मा व लघु व मध्यम मेन्युफेक्चरिंग यूनिटों में काम करते हैं. सूरत में करीब 20 लाख,अहमदाबाद में 17 लाख, मोरबी में 3 लाख, मेहसाणा में दो लाख से अधिक श्रमिक कार्यरत हैं. इनके पलायन से वहां की अर्थव्‍यवस्‍था पर भी असर पड़ा है. गुजरात औद्योगिक विकास निगम चांगोदर के अध्यक्ष राजेंद्रशाह बताते हैं कि उनके क्लस्टर में हमले के भय से 10 से 40 प्रतिशत श्रमिक काम छोडकर चले गए हैं, जिससे कई फैक्ट्रियों के काम बंद हो गए हैं.

निर्दोष लोगों के बारे में नहीं बनाएं गलत धारणा- नितीश कुमार

घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि अपराधियों को सजा मिले, लेकिन निर्दोष बिहारियों के संबंध में गलत धारणा नहीं बनाई जानी चाहिए. उन्होंने कहा कि इस तरह के मामलों एक का दूसरे राज्य के लोगों के प्रति इस तरह की भावना नहीं रहनी चाहिए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्‍होंने गुजरात के मुख्‍यमंत्री से बात की है. वहां की सरकार सतर्क है और पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए है. इस संबंध में गृह विभाग के प्रधान सचिव अमीर सुबहानी ने बताया कि इस बारे में उनकी गुजरात सरकार के गृह सचिव से बात हुई है.उन्होंने यह आश्वस्त किया है वहां रह रहे बिहारियों को पूरी सुरक्षा दी जाएगी.

दोषी को कड़ी सजा होगी -रुपाणी 

इस मामले पर गुजरात के मुख्‍यमंत्री रुपाणी ने कहा कि हालात नियंत्रण में हैं. उन्‍होंने लोगों से शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील भी की. उन्‍होंने बताया कि दुष्‍कर्म के आरोपी को 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार किया जा चुका है.

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *